बिहार में तेजी से पांव पसारते कोरोना के बीच राहत भरी खबर भी है। पिछले साढ़े तीन महीने में कोरोना के करीब पांच हजार मामले मिले हैं, पर राज्य की 12.50 करोड़ की आबादी में यह संख्या करीब .04 फीसद ही है। एक और गुड न्‍यूज यह है कि स्वास्थ्य विभाग ने सात मार्च से आठ जून के बीच जिन 1,02,318 संक्रमण के संदिग्‍धों के सैंपल की जांच की है, उनमें केवल 5.05 फीसद को ही कोरोना पॉजिटिव पाया गया है। यह भी गौरतलब है कि संक्रमण के तीन महीने बाद भी राज्‍य में केवल ढ़ाई-तीन हजार जांच ही हो रही है और यहां रोजाना सौ से ढ़ाई सौ नए मामले मिल रहे हैं।

सभार/सौजन्य से

Share To:

Post A Comment: